प्यार में सील तोड़ चुदाई

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम अंशुल है | मैं २२ साल का हूँ और बी. कॉम सेकेंड इयर की पढाई कर रहा हूँ और मैं मध्यप्रदेश में इंदौर का रहने वाला हूँ | मेरी फेमिली में तीन लोग है मम्मी, पापा और मै | मैं उनका इकलौता लड़का हूँ इसलिए वो मुझे बहुत प्यार करते है |  मेरी ऊँचाई  5.7’’ है और मेरा रंग गोरा है दिखने में भी अच्छा हूँ | मेरे लंड 6’’ लम्बा है और 3’’ मोटा है | चलो अब स्टोरी पर आता हूँ ये बात आज से 2 साल पहले की है जब मेरी बारहवीं की पढाई चल रही थी और मैं पेपर दे चूका था| मेरी गर्मियों की छुट्टिया चालू हो गई थी तो मेरे घर वालों ने मतलब मेरे मम्मी पापा ने मुझे घुमने के लिए मेरी बुआ के घर चले जाने को कहा | मैंने भी उन्हें हाँ कह दिया तो 2 दिन बाद उन्होंने मेरा ट्रेन में रिजर्वेशन करवाकर मुझे बुआ के घर भेज दिया |

मैं वहां पहुंचा तो मुझे देख कर वो सब बहुत खुश हुए | मेरी बुआ उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर नाम के शहर में रहती है और उनकी फैमली में चार लोग है बुआ फूफा जी और उनके दो बच्चे | उनका एक लड़का है जो मुझसे दो साल बड़ा है और उसका नाम आयुष है और उनकी  एक लड़की है जो मुझसे एक साल छोटी है और उसका नाम शिवांगी है | फूफा जी की बहुत बढ़ी स्टेशनरी की दुकान है और बुआ स्कूल में टीचर है |  फूफा जी रोज दुकान चले जाते और आयुष अपने फ्रेंड्स के पास बाहर चला जाता था | उसने मुझे भी एक दो बार अपने फ्रेंड्स के पास ले गया पर मै उन्हें जानता नहीं था इसलिए उनके साथ बोर हो जाता था इसलिए मैंने जाना बंद कर दिया और बुआ के घर पर ही रहता था | मेरी बुआ के घर के दो घर आगे एक लड़की रहती थी जिसका नाम आशी था | वो मेरी बहन शिवांगी की फ्रेंड थी और रोज बुआ के घर शिवांगी के पास आती थी और शिवांगी ने उसे मुझसे मिलवाया और हमारी फ्रेंडशिप भी करवा दी |

वो बहुत ही सुन्दर थी एक दम गोरी स्लम बॉडी, दूध बढे बढे, उठी हुई पिंक्स लिप्स बिलकुल डॉल जैसी दिखती थी | उसे देख कर ही मेरा लंड खड़ा हो जाता था और दिल करता था अभी उसे चोद दूँ और उसकी चूत फाड़ डालू | लेकिन डरता था क्योंकि मैंने पहले कभी सेक्स नहीं किया था और बुआ का घर था तो इसलिए डरता था की वो किसी को बता न दें | पर में उसे चोदना चाहता था मेरे दिमाग में यही चल रहा था की मै उसे चोदु कैसे ? मै उसके पीछे पागल हो गया था उसे सोच कर मुट्ठ भी मारने लगा था | एक दिन फूफा जी दुकान और आयुष बहार गया था और बुआ और शिवांगी को बाजार जाना था तो उन्होंने मुझे अपने साथ चलने को कहा पर मेरा जाने का मन नहीं था तो मैंने कहा आप चले जाओ मै यही घर पर ही रहूँगा | तो उन्होंने कहा ठीक है और वो दोनों चली गई | मैंने अपने साथ ब्लू फिल्म की सीडी भी लाई थी जिसे प्लेयर में लगाया और टीवि पर उसे देखने लगा | उसमें एक लड़की बहुत ही सुन्दर ब्लैक कलर का सूट और रेड कलर की ब्रा पहनी थी लड़का जिसे उतार कर उसके निप्पल चूस रहा था और उसे किस कर रहा था | जिसे देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैंने अपना लंड निकाल कर उसे हिलाने लगा और मुट्ठ मरने लगा |

कामुक कहानियाँ  जिज्ञासा की गरमा गरम सिसकियाँ

मैंने एक्साइटमेंट में बुआ के जाने के बाद दरवाजा बंद करना भूल ही गया और पता नहीं कब आशी शिवांगी से मिलने आ गई और मुझे ये सब करते देख लिया मुझे पता ही नहीं चला | मैं बी एफ देख रहा था और मुट्ठ मार रहा था तभी मेरा मोबाइल बजा तो मैं पीछे सोफे पर मोबाइल उठाने पलटा तो देखा की आशी दरवाजे के पास खड़ी थी और सब देख रही थी | उसने देखा की मैंने उसे देख लिया है तो वो तुरंत वहाँ से भाग गई | मैं उसे देखकर डर गया और सोचा कि वो किसी को बता ना दे| मैं बहुत टेंशन में आ गया और सोचने लगा की वो मेरे बारे में क्या सोच रही होगी और वो किसी से कुछ कह न दे | फिर मैंने टीवी बंद की और बैठ गया और थोड़ी देर बाद बुआ और शिवांगी वापस आ गई | उन्होंने मेरे लिए बहुत सारे गिफ्ट लिए थे लेकिन टेंशन में मैंने उन्हें देखा ही नहीं |

फिर शाम को आशी बुआ के घर आई मैं डर गया कि वो शिवांगी को सब बता न दे लेकिन उसने किसी को कुछ नहीं बताया और थोड़ी देर बाद वो चली गई | तब मेरी टेंशन दूर हुई और मैंने सोचा की उसने किसी को कुछ बताया क्यों नहीं और रात भर यही सोचता रहा | फिर अगले दिन सुबह जब वो घर आई तब बुआ किचिन में थी और  शिवांगी बाथरूम में नहाने गई थी तो वो हॉल में बैठ कर उसका वेट करने लगी | मैं उससे नजरे नहीं मिला पा रहा था पर मैंने हिम्मत करके उससे कहा आशी सुनो तो उसने कहा हाँ क्या हो गया | तो मैंने कहा कल के लिए सॉरी यार प्लीज़ किसी से कुछ बताना नहीं कल के बारे में | तो वो मुस्कुराने लगी और कहने लगी ठीक है, तब मुझे अच्छा लगा और मेरी हिम्मत और बढ़ गई  तो मैंने उससे मजाक में पूछ लिया की आशी तुमने किया है क्या कभी किसी के साथ सेक्स तो वो मुझे गुस्से देखने लगी | मैं फिर डर गया तो मैंने उससे कहा यार बुरा मत मानना मैं तो ऐसे ही पूछ रहा था| तो उसने कहा इट्स ओके, नहीं किया मैंने कभी सेक्स फिर उसने मुझसे पूछा अंशुल तुमने किया है कभी तो मैंने कहा नहीं यार नहीं किया बस विडियो देखा है | तो उसने कहा वही जो तुम कल देख रहे थे तो मैंने कहा हां फिर मैंने उससे पूछा तुमने कल क्या क्या देखा तो वो शर्मा गई और कहा सबकुछ जो तुम कर रहे थे | मैंने सोचा मौका अच्छा और मैंने उससे बोल दिया आशी तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो मैं मुझे तुमसे प्यार हो गया है और मैं तुम्हारे पीछे पागल हो गया हूँ |

मैं तुम्हारे बिन नहीं रह सकता तो वो शर्मा गई और कहा अंशुल मुझे भी तुमसे प्यार हो गया है और मेरे गाल पर किस कर दिया| फिर मैंने भी उसके गाल पर किस किया | फिर मैंने उसे कही बहार घूमने चलने के लिए कहा तो वो मान गई लेकिन मुझे वहां की घुमने की ज्यादा जगह नहीं पता था तो मैंने कहा तुम्ही मुझे कोई अच्छे से होटल लेके चलना | उसने कहा ठीक है फिर अगले दिन मैंने बुआ जी से कहा बुआ मेरा एक फ्रेंड यही रहता है तो मै उसके साथ घुमने जा रहा हूँ और बुआ की एक्टिवा गाड़ी लेके निकला फिर मैंने आशी को फ़ोन किया तो उसने मुझे बस स्टॉप के पास मिलने के लिए कहा | मैं वहां पहुंचा थोड़ी देर बाद आशी भी वहां आ गई  उसने रेड कलर का सूट पहना था और एक दम किसी अप्सरा जैसे दिख रही थी | फिर वो गाड़ी पर बैठी और मुझे होटल का रास्ता बताया फिर हम होटल में पहुचे एंड डिनर किया |

कामुक कहानियाँ  कॉलेज वाली पटोला मैडम की चुदाई

फिर मैंने उससे से कहा की आशी मैं तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहता हूँ तो उसने मना कर दिया फिर मैंने उसे बहुत मनाया पर वो नहीं मानी तो मैंने कहा अच्छा सेक्स नहीं करूँगा पर मैं तुम्हे ओपन देखना चाहता हूँ और किस करना चाहता हूँ तो उसने आखिर हां कह ही दिया | फिर मैंने होटल में एक रूम बुक किया और हम दोनों रूम में गए उसके बाद मैं उसे लिप किस करने लगा | क्या लिप्स थे यार फ्रेंड्स उसके क्या बताऊ आपको एक दम रसीले और गुलाबी लिप्स मैं उसे चूस कर सारा रस पी रहा था | वो भी मेरी किस का जवाब देने लगी और मेरे लिप्स को अपने लिप्स से खीचने लगी और गरम होने गई | फिर मैंने उसे कपडे उतरने को कहा तो वो शर्मा गई और कहा तुम खुद ही उतार लो | मेरा ख़ुशी का तो ठिकाना ही न था | मैंने उसका सलवार सूट उतारा और देखा उसने ब्लैक कलर की ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी| क्या बताऊ दोस्तों ब्लैक ब्रा पेंटी में वो क्या लग रही थी| फिर मैंने उसके बूब्स दबाना शुरू किया तो वो हलकी हलकी आह्ह्ह आःह्ह की आवाजे निकलने लगी फिर मैंने उसकी ब्रा की हुक खोल दिया और ब्रा उतार दी जैसे ही मैंने उसके बूब्स देखे तो मेरी आँखे उन्हें देखती ही रह गई |

क्या बूब्स थे फ्रेंड्स उसके एक दम गोरे और एक दम टाइट और उसमे ब्राउन कलर के निप्पल क्या लग रहे थे | मैंने उसके निप्पल को मुंह में लिया और चूसने लगा और पागलो की तरह काटने लगा वो जोर जोर से आआह्ह्ह अहह की आवाजे निकलने लगी और मुझे धीरे धीरे निप्पल चूसने को कहा | लेकिन मैं कहाँ मानने वाला था वो भी गरम हो गई थी और मेरी जींस के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगी | मेरा लंड भी पूरी तरह खड़ा हो गया था| फिर में उठा और अपने कपडे भी उतार दिए और सिर्फ अंडरवियर पे आ गया और फिर उसके निप्पल चूसने लगा और काटने लगा फिर मैंने उसकी पेंटी भी उतार दी और उसे पूरा नंगा कर दिया और जैसे ही उसकी चूत देखी तो देखता ही रह गया | उसने आज ही शेव करी थी एक भी बाल नहीं थे | उसकी चूत एक दम गुलाबी थी वो हंसने लगी और उसने कहा की वो भी मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी इसलिए आज ही चूत शेव करी है |

कामुक कहानियाँ  गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स का मजा लिया

ये सुन के में पागल जैसा हो गया और पागलो की तरह उसकी चूत को चाटने लगा | दोस्तों क्या बताऊ क्या टेस्ट था उसकी चूत का | वो भी जोर जोर से आःह्ह्ह आआह्हह्हह आआह्ह आआह्हह्हह्हह्ह  की आवाज निकलने लगी और मेरे सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी और कहने लगी अंशुल आई लव यू आह्ह्ह आःह्ह प्लीज़ फाड़ दो आज मेरी चूत को और बना लो मुझे अपना फिर मैंने भी अपनी अंडरवियर उतार दी और अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और अपने लंड को उसकी चूत पर सहलाने लगा | वो तड़पने लगी और कहने लगी जानू प्लीज अब मत तडपाओ दाल दो अंदर फाड़ दो मेरी चूत को मैंने भी देर ना करते हुए अपने लंड को उसकी चूत के अंदर घुसाने के लिए जोर लगाया लेकिन चूत टाइट होने के कारण लंड चूत में जा ही नहीं रहा था |

फिर मैंने अपने लंड पर थोडा सा थूक लगाया और फिर लंड उसकी चूत पर रखा और एक जोरदार झटका मारा जिससे मेरा लंड 3’’ तक उसकी चूत में घुस गया और वो बहुत ज़ोर से चीखने लगी और लंड बहार निकलने के लिए कहने लगी और ज़ोर ज़ोर से रोने लगी | मैंने नीचे देखा तो उसकी चूत से खून निकल रहा था पर में कहाँ रुकने वाला था मैंने उसके लिप को अपने लिप्स से लॉक कर दिया फिर एक और जोरदार झटका मारा जिससे मेरा लंड उसकी चूत फाड़के उसके अन्दर समां गया वो तड़पने लगी |

उसकी चीख निकल रही थी पर मैंने उसे अपने लिप्स से लॉक कर रखा था तो वो कुछ कर भी नहीं सकती थी | मैंने धीरे धीरे चूत में लंड को आगे पीछे कर रहा था थोड़ी देर बाद वो नॉर्मल होने लगी और आह्ह आःह्ह आआह्ह आआह्ह्ह की आवाज निकलने लगी तब मैंने स्पीड बढा दी और ज़ोर ज़ोर से उसे चोदने लगा उसे भी मज़ा आ रहा था वो बडबडा रही थी जानू और तेज़ और तेज़ आह्ह आःह और तेज़ चोदो और वो भी मेरा साथ देने लगी और अपनी गांड उठा के चुदवाने लगी 15 मिनट बाद वो झाड गई पर में कहा झड़ने वाला था |

मैं लगातार उसे चोद रहा था करीब 15 मिनट बाद मैंने उससे कहा में झड़ने वाला हूँ तो उसने कहा चूत में ही अपना मुट्ठ गिरा दो | तो मैंने भी उसकी चूत में ही अपने लंड का सारा रस छोड़ दिया | उस दिन मैंने उसे 3 बार चोदा जिसमे वो 7 बार झड चुकी थी, उसके बाद में उसे कई बार चोदा फिर मैं वापस अपने घर आ गया और 2 साल से वापस वहां नहीं गया पर फ़ोन में उससे मेरी बात जरुर होती है तो फ्रेंड्स कैसी लगी आपको मेरी स्टोरी प्लीज लाइक  और कमेंट जरुर करे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: